सोमवार को अमेरिका से रवाना होंगे भारत के लिए 100 उच्च प्रौद्योगिकी वेंटिलेटर

Donald trump

 कोरोना महामारी के कारण ही सभी देश एक दूसरे की मदद करने के लिए आगे आ रहे है कोरोना वायरस की इस महामारी में मदद की शुरुआत भारत देश ने ही की थी भारत ने कई देशो को Hydroxychloroquine जैसी दवाई दी जो कोरोना वायरस से लड़ने में कुछ हद तक सही साबित हुआ। 

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पहले ही ऐलान कर दिया था कि अमेरिका भारत को वेंटिलेटर मदद के तौर पर देगा। अब अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपना वादा पूरा करते हुए अमेरिका से वेंटिलेटर सोमवार को भारत आ रहे है। 

आपको बता दे कि सोमवार को अमेरिका से 100 उच्च प्रौद्योगिकी वेंटिलेटर भारत के लिए रवाना किये जायेंगे। इन वेंटिलेटर से कुछ हद तक कोरोना महामारी से लड़ने में सहायता मिलेगी। भारत में पहुंचने के बाद इन वेंटीलेटर को अस्पतालों को वितरित किया जाएगा। 

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पहले ही ट्वीट कर कहा था कि ” मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है कि संयुक्त राज्य अमेरिका भारत में अपने दोस्तों को वेंटिलेटर दान करेगा हम इस महामारी के दौरान भारत को नरेंद्र मोदी के साथ खड़े है और साथ ही हम कोरोना वेक्सीन बनाने में भी भारत के साथ मिलकर काम कर रहे है और जल्द ही हम इस अदृस्य दुश्मन को हरा देंगे “।

 इस ट्वीट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवाब देते हुए उन्हें धन्यवाद कहा साथ ही इस महामारी में ये भारत और अमेरिका के रिश्तो को नयी ऊंचाई पर ले जायेगा। 

Source – ANI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *