यूपी पहला राज्य जहाँ होगी 1 लाख रिज़र्व बेडो की व्यवस्था, योगी ने दिए आदेश

Yogi Adhityanath

उत्तर प्रदेश जो जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य है बावजूद इसके सीएम योगी ने पुरे प्रदेश में कोरोना पर अभी तक काफी हद तक नियंत्रण किया हुआ है जबकि अन्य राज्यों की अपेक्षा यूपी में कोरोना मरीजों की संख्या काफी कम है। 

कोरोना मरीजों के लिए बेडो के निर्देश 

जहाँ उत्तर प्रदेश में पिछले सप्ताह कोरोना मरीजों के लिए 56019 बेड थे वह अब सीएम योगी के प्रयास से यह 78033 तक पहुंच चुका है और अब सीएम योगी ने एक बार फिर निर्देश दिए है कि महीने के अंत तक एक लाख बेड रिज़र्व करने के आदेश दिए है  और अभी तक के प्रशासन के इस बढ़ोतरी के प्रयासों से भी संतुष्ट और उनके कार्यो को सराहा भी है। 

 स्वास्थ्यकर्मियों के लिए सुविधाओं के भी निर्देश 

साथ ही उन्होंने कोविड- 19 के खिलाफ अधिकारियो को कहा कि यह सुनिश्चित करे कि चिकित्सक नियमित तौर पर निरिक्षण करे। उन्होंने सभी जनपदों में पीपीई किट, एन-95 मास्क , सेनिटाइज़र , दवाई, पल्स ऑक्सीमीटर अल्ट्रारेड थर्मामीटर आदि की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। 

कोरोना जांच बढ़ाने के आदेश 

योगी ने यह भी आदेश दिये कि जाँच की क्षमता को बढाकर 10 हज़ार परिक्षण प्रतिदिन करने के निर्देश दिए।  सीएम के लगातार प्रयासों से जनता भी संतुष्ट दिखाई देने लगी और योगी लगातार अपने सभी आला अधिकारियो से लगातार संपर्क बनाये रखते है कोरोना की इस जंग में वह लगातार राज्य में कोरोना को फैलने से रोकने के प्रयास में लगे है।  

 प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार 

इसके साथ ही उन्होंने पलायन कर अपने राज्य वापस लौटे प्रवासियों को उत्तर प्रदेश में ही 11 लाख प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने का एलान किया है इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने इंडस्ट्री के साथ समझौते हुए है 11 लाख प्रवासी मजदूरों और श्रमिकों की लिस्ट इंडिया इंडस्ट्रीज एसोसिएशन जैसे संगठनो से मिली है योगी ने कहा इस प्रयास से श्रमिकों को वित्तीय स्थिरता और जीवन यापन दोबारा से सुलभ हो पायेगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *