यूरोप से अपनी सेना हटाकर एशिया में अब अमेरिकी सेना की तैनाती चीन की बढ़ेगी मुश्किलें

us-army-in-asia-will-increase-the-difficulties-of-china

भारत चीन विवाद दिन प्रतिदिन एक नया रुख ले रहा है. भारत चीन विवाद थमने का नाम नही ले रहा है. इस बीच अब अमेरिका ने भी कड़े तेवर अपना दिए है. और चीन को कड़े रुख अपनाते हुए अब अपनी सेना को यूरोप से कम कर एशिया में भी हटा दिया है।

आपको बता दे कि चीन और अमेरिका में हमेशा ही एक दुसरे को पीछे छोड़ने कि होड़ लगी रहती है. और कोरोना के बाद तो अमेरिका चीन पर पूरी तरह हावी हो गया और चीन को कोरोना संक्रमण पर घेरते हुए एक के बाद एक आरोप लगाते रहे अमेरिका चीन का विवाद भी दुनिया से छुपा नही है।

अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो ने कहा चीन भारत के लिए खतरा है. साथ ही चीन एशियाई देशो के लिए भी खतरा है. और चीन एशियाई देशो में अपना दबदबा बनाने कि कोशिश कर रहा है. अमेरिका ने बड़ा फैसला लेते हुए अब अपनी सेना को यूरोप से हटाकर एशिया में तैनात करने का फैसला लिया है।

Also Read – सोमवार को अमेरिका से रवाना होंगे भारत के लिए 100 उच्च प्रौद्योगिकी वेंटिलेटर

अब कोरोना काल के बाद से ही अमेरिका खुलकर अब भारत के साथ खड़ा होता दिखाई दे रहा है. भारत -चीन विवाद में चीन ने एक बार फिर धोखा दिया है. भारत चीन दोनों देशो में सेना को पीछे हटने की सहमती बनी थी. लेकिन इस वादे पर चीन कायम नही रहा और अपनी सेना की तैनाती फिर से बढ़ा दी है।

लेकिन इस बार भारत भी चीन विवाद पर पूरी तरह सतर्क है. और भारत ने भी अपनी सेना भी लदाख से एलएसी पर सेना भी तैनाती बढ़ा दी है . और अब भारतीय सेना के चीफ भी लदाख का दोरा कर चुके है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *